अगर 55 सालों की तुलना 55 महीने से की जाए तो 55 महीने इन पर भारी पड़ेंगेः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

Yogi Adityanath

प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना से प्रदेश के 2 करोड़ 14 लाख किसान लाभान्वित होने वाले हैं और इस योजना की शुरुआत के लिए आज प्रधानमंत्री ने गोरखपुर की धरती को चुना है

10 जून 1990 को यहां का खाद कारखाना बंद हो गया था। जिन लोगों ने 55 सालों तक शासन किया उन्होंने कभी भी किसानों के बारे में नहीं सोचा। लेकिन जुलाई 2016 में इस खाद कारखाने को फिर से शुरू करने की कवायत शुरू हुई और 2020 में यह पूरी तरह से तैयार हो जाएगा

कभी 42 चीने मिले यहां काम करती थीं लेकिन समाजवादी पार्टी और बसपा ने यहां सब तबाह कर दिया और एक बार फिर से ये दोनों नापाक गठबंधन बनाकर बर्बाद करने की तैयारी कर रहे हैं

अगर 55 सालों की तुलना 55 महीने से की जाए तो 55 महीने इन पर भारी पड़ेंगे

किसान के हित के लिए सुगरकैन को ऐथेनॉल में बदलने की स्वीकृति दी गई है, जिससे किसानों के हितों का ध्यान रखा जाए

प्रधानमंत्री को पूर्वी उत्तर प्रदेश से लगाव है इसलिए काशी को अपना संसदीय क्षेत्र चुना और काशी को जो नई पहचान दी है इसके लिए हम सभी आपके आभारी हैं

आपने जो भी कहा वो किया आपने यहां एम्स लगाने की बात कही थी और आज यहां एम्स बन रहा है। आजादी के बाद से यहां की जनता को स्वास्थ्य व्यवस्था के लिए जो मांग थी उसे आपने आते ही पूरा कर दिया

पहले गोरखपुर से हवाई कनेक्टविटी नहीं थी लेकिन आज गोरखपुर से 3 हवाई जहाज दिल्ली के लिए उड़ान भर रहे हैं। आज 6 एयरपोर्ट यूपी में उड़ान योजना के तहत हैं बाकी पर युद्ध स्तर पर काम हो रहा है

Author: ElectionAdda