चारे के नाम पर क्या-क्या हुआ है, ये बिहार के लोग बहुत बेहतर जानते हैं – पीएम नरेंद्र मोदी पटना (बिहार) में NDA की संकल्प रैली में

I am not afraid of Corrupts and Pakistan - PM Modi

आज पटना (बिहार) में NDA की संकल्प रैली हुई, जिसमे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, रामविलास पासवान, सुशील मोदी व NDA के घटक दलों के प्रमुख नेताओं ने भाग लिया |

जानिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रैली में क्या कहा –

पराक्रमी भारत के लिए – भारत माता की जय
विजयी भारत के लिए – भारत माता की जय
वीर जवानों के लिए – भारत माता की जय

आपका प्रधानसेवक होने के नाते मुझे कईं बार बिहार आने का मौका मिला है। मुझे ये देखकर खुशी होती है कि नीतीश बाबू जैसे कर्मठ, शालीन और गरीबों की चिंता करने वाले व्यक्तित्व ने कैसे बिहार को उस पुराने दौर से बहार निकालकर एक नई दिशा दी है |

हमारी सरकार ये सुनिश्चित करने में जुटी है कि बिहार में विकास की पंचधारा यानि
बच्चों को पढ़ाई
युवा को कमाई,
बुजुर्गों को दवाई,
किसान को सिंचाई
और जन-जन की सुनवाई, सुनिश्चित हो |

जो गरीबों का छीन कर अपनी दुकान चला रहे थे, वे चौकीदार से परेशान हैं। इसीलिए चौकीदार को गाली देने की साजिश चल रही है। आप यकीन रखिए, आपका चौकीदार हर तरीके से चौकन्ना है |

आप सभी साक्षी है, जब हमारे देश की सक्षम सेना आतंक को कुचलने में जुटी है। चाहे वो सीमा के भीतर हो या बाहर, ऐसे समय में देश के भीतर ही कुछ लोग क्या क्या कर रहे हैं? देश की सेना का मनोबल बढ़ने की बजाय वो ऐसे काम कर रहें हैं, जिससे दुश्मन के चेहरे खिल रहे हैं | जब आतंक की फैक्ट्री चलाने वालों के खिलाफ एक सुर से बात करने की ज़रूरत थी, तब दिल्ली में 21 पार्टियां मिलकर मोदी के खिलाफ, केंद्र की NDA सरकार के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित करने के लिए इकट्ठी हुईं थी |

यहां गांव और शहरों की सड़कों को, यहां के नेशनल हाईवे का चौड़ीकरण हुआ है। जो पुराने पुल हैं उनको सुधारा जा रहा है, नए फ्लाइओवर्स का निर्माण किया जा रहा है| रेलवे की पुरानी व्यवस्थाओं में सुधार किया गया है, उनका बिजलीकरण हो रहा है| पटना रेलवे जंक्शन को नए रंग-रूप में आप सभी देख ही रहे हैं| परिवहन के साथ-साथ बिजली और ऊर्जा से जुड़े दूसरे इंफ्रास्ट्रक्चर पर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। गांव-गांव तक बिजली पहुंचाने का अभियान जो केंद्र की सरकार ने चलाया है, उसका लाभ पूरे बिहार को मिला है |

उद्योगों के साथ-साथ हमारे अन्नदाताओं के लिए भी देश के इतिहास की सबसे बड़ी योजना पीएम किसान सम्मान निधि आज ज़मीन पर उतर गई है। इस योजना के तहत बिहार के 1.5 करोड़ से अधिक छोटे किसानों समेत देश के लगभग 12 करोड़ किसानों को होगा |

चारे के नाम पर क्या-क्या हुआ है, ये बिहार के लोग बहुत बेहतर तरीके से जानते हैं| ये जो लूट-खसूट, चोरी-चकारी, बेनामी प्रॉपर्टी और बिचौलियों की संस्कृति बिहार और देश की राजनीति में दशकों से सामान्य हो चुकी थी, उसको बंद करने की हिम्मत हमने दिखाई है|

Author: ElectionAdda