देश ने शहीद महेश यादव जैसा वीर जवान ही नहीं खोया बल्कि एक नन्हे से बच्चे ने अपने पिता को भी खो दिया

Akhilesh Yadav

देश ने शहीद महेश यादव जैसा वीर जवान ही नहीं खोया बल्कि एक नन्हे से बच्चे ने अपने पिता को भी खो दिया।

आज प्रयागराज में उनके परिजनों से मिल कर मुझे सदमा तो हुआ ही पर मैं अक्रोशित भी हुआ कि सरकार की ख़राब और ग़लत नीतियों ने केवल एक सैनिक नहीं परंतु एक ग़रीब घर का चिराग़ भी बुझा दिया

आज प्रयागराज में युवाओं और छात्रों ने गर्मजोशी से स्वागत किया। उनका उत्साह और उनका जज़्बा देख कर मुझे भरोसा हुआ कि उनकी आवाज़ कभी नहीं दबाई जा सकती है।

लाठियों की बौछार और सरकार का अहंकार कभी समाजवादी विचारधारा को नहीं रोक सकती है।बस अफ़सोस इतना हुआ कि सबसे भेंट नहीं हो पाई।

Author: ElectionAdda